Articles

BABY CARE TIPS IN HINDI: An Incredibly Easy Method That Works For All

by Lucky Jack Content handler and blogger

मां बनना महिलाओं के जीवन में बहुत आनंदमय पल होता है ऐसे में अगर महिला पहली बार मां बनी है तो उनके मन में कई सारें सवाल उठ खड़े होते है जैसे कि नन्हें शिशु की देखभाल कैसें करें, उसे भूख लगेगी, किन सावधानियों को अपनाना चाहिए जिसके कि बेबी स्वस्थ्य रहे और उसे किसी भी प्रकार की तकलीफ नहीं हो। आज इस लेख के माध्यम से हम आपको शिशु के देखभाल के तरीके baby care tips in hindi के बारें बताएंगे जिससे कि आप शिशु की देखभाल ठीक तरीके से कर पाएंगे:-

1- नन्हें शिशु को ठीक तरह से पकड़ें-   नवजात बच्चें का शरीर बेहद ही कोमल और लचीला होता है इसलिए उसे उठाने और सुलाने में बहुत सावधानी पूर्वक उसे पकड़ना चाहिए। गलत तरीके से पकड़ने के कारण नन्हें शिशु को काफी तकलीफ होती है जिस कारण वह रोने लगता है। नवजात को उठाते समय उसके गर्दन को एक हाथ से पकड़ना चाहिए और दूसरे हाथों से उसके दोनों पैरों को सहारा देते हुए उठाएं और सुलाएं।

नवजात को उठानें और टहलाते समय भी एक हाथ से उसके गर्दन को पकड़कर रखना चाहिए || Raising the newborn and keeping his neck with one hand should also be kept while walking.

2- नवजात को दूध पिलाने का तरीका-  नवजात शिशु को मां का दूध पिलाना ही सर्वोत्तम माना जाता है। मां को अपने दो हाथों से शिशु को गोद में लेकर स्तनपान कराना चाहिए। क्योंकि बच्चा स्तनपान करते समय नाक से ही सांस लेता और छोड़ता है क्योंकि इस समय बच्चें का मुंह बंद रहता है इसलिए आप स्तनपान कराते समय जांच करते रहे कि बच्चे का नाक के बीच में कोई अवरोध उत्पन्न नहीं हो और वह आसानी से सांस लें सके।

3- मालिश करते समय रखें सावधानी-  नन्हा शिशु ज्यादातर समय सोता रहता है इसलिए उसके पूरे शरीर में अकड़न आ जाती है इसलिए उसे मालिश करना बहुत ही लाभदायक होता है और उसकी पूरी थकान खत्म हो जाती है। बच्चें को बेबी ऑयल से अच्छी तरह से मालिश करना चाहिए और मालिश करते समय आप बच्चें के अंगों को आराम से व्यायाम कराएं।

4- समय पर डायपर बदलें-  नवजात शिशु कम समय में ही बार-बार मल और मूत्र का त्याग करते है इसलिए आप बच्चे की डायपर को समय-समय पर बदलते रहे और उसके नम होने की जांच करते रहे। ज्यादा समय तक गीले डायपर को पहनने से शिशु को इंफेक्शन हो जाता है।

5- शरीर को साफ करें-  जरुरी नहीं है कि नन्हें शिशु को प्रतिदिन नहलाया जाए इसलिए आप नवजात शिशु की शरीर को साफ व कोमल कपड़े को गीला कर पोछतें रहें। बच्चे के नाखूनों को थोड़ा बड़ा होने पर उसे काट दें अन्यथा उसे खरोंच लग सकती है। आप बच्चें के कपड़ों को लेकर भी विशेष ध्यान दे और साफ व कोमल कपड़ें ही पहनाएं।

Read more: 5 month baby care tips in hindi.


Sponsor Ads


About Lucky Jack Innovator   Content handler and blogger

17 connections, 0 recommendations, 62 honor points.
Joined APSense since, April 27th, 2019, From Noida, India.

Created on May 6th 2019 02:05. Viewed 601 times.

Comments

No comment, be the first to comment.
Please sign in before you comment.