Articles

15 बीवियों और 30 बच्चों वाला अय्याश राज, जो युवतियों से करवाता हैं गंदे काम, अजबो-गरीब हैं शौक

by Shajiya Khan Every day I feel very grateful that I am able to d
देश के राजा के ऊपर कई जिम्मेदारियां होती हैं जिसका वह पालन का करता है। राजा का फर्ज होता है कि वह अपनी जनता के हर दुख-दर्द को समझे। हालांकि दुनिया के अधिकतर देशों से अब राजशाही खत्म हो चुकी है। अब कुछ ही देश बचे हैं जहां पर अभी भी राजशाही है। ऐसा ही एक देश है स्वाजीलैंड, जहां के अजब गजब कानूनों के बारे में जानकर आप हैरान हो जाएंगे। यह देश अफ्रीका महाद्वीप में दक्षिण अफ्रीका से सटा है। यहां के राजा के अजीबो-गरीब शौक जानकर आप हैरान हो जाएंगे।

बता दें कि दक्षिण अफ्रीका और मोजैंबिक की सीमाओं से सटे इस देश की चर्चा अक्सर यहां के राजा मस्वाती तृतीय को लेकर होती रहती है, जिसने साल 2018 में देश की आजादी के पचास साल पूरे होने पर देश का नाम बदलकर ‘द किंगडम ऑफ इस्वातिनी’ कर दिया। राजा मस्वाती तृतीय अपने ऐशोआराम और रंगीन मिजाजी के लिए सुर्खियों में रहते हैं।

इस राजा की एक या दो नहीं, बल्कि 15 रानियां और 30 बच्चे हैं। 15 पत्नियां होने के अलावा राजा की कई प्रेमिकाएं भी हैं जिन्हें तब पत्नी का दर्जा मिलता है जब वो गर्भवती हो जाती हैं। इतना ही नहीं हैरान करने वाली बात यह है कि इस राजा के पिता सोभुजा की भी 70 रानियां और 210 संतानें थीं। जिसे सुनकर भले ही अजीब लगे लेकिन सच है। इस देश की खासियत यह है कि यहाँ राजा ही नहीं बल्कि कोई आम नागरिकों को भी कई विवाह करने की आजादी है।

इस परंपरा का राजा ने भरपूर लाभ उठाया और एक के बाद एक पंद्रह शादियां की। उन्हीं को मनाने के लिए राजा ने अपने कोष से बड़ा धन खर्च किया। राजा ने अपनी 15 बीवियों को रोल्स रॉयस सैलून कार गिफ्ट में दिया। ये कारें कुल मिलाकर करीब 175 करोड़ रुपए की थीं। इसके अलावा उसने कुछ बीएमडब्ल्यू और रोल्स रॉयस कारें अपने काफिले के लिए भी खरीदीं। निजी जेट की छोड़िए इस राजा का खुद के लिए हवाई अड्डे तक का प्रबंध है। 



Sponsor Ads


About Shajiya Khan Senior   Every day I feel very grateful that I am able to d

133 connections, 4 recommendations, 525 honor points.
Joined APSense since, September 4th, 2021, From Lucknow, India.

Created on Nov 13th 2021 02:48. Viewed 295 times.

Comments

No comment, be the first to comment.
Please sign in before you comment.