Articles

आँखों को पूरी तरह से बर्बाद कर सकती है आपकी यह एक गलती, जो आप रोज करते है

by Neeraj Bisaria SEO Exec.

कहते है कि आंखे व्यक्ति के शरीर का वो नाजुक अंग है, जिसके बिना व्यक्ति की पूरी जिंदगी अधूरी हो जाती है. जी हां अब जाहिर सी बात है कि आँखों के जरिए ही व्यक्ति जिंदगी के हर उस रंग को देख सकता है, जिसे एक नेत्रहीन व्यक्ति कभी नहीं देख सकता. यही वजह है कि आंखे व्यक्ति के शरीर का ही नहीं बल्कि उसकी जिंदगी का भी महत्वपूर्ण हिस्सा होती है. यानि अगर हम सीधे शब्दों में कहे तो यह कुदरत द्वारा इंसान को दिया गया एक अनमोल तोहफा है. हालांकि आज कल लोग कुदरत द्वारा दिए गए इस तोहफे के साथ काफी खिलवाड़ कर रहे है.

गौरतलब है कि आज के समय में व्यक्ति अपनी ही गलतियों की वजह से आँखों से संबंधित कई बीमारियों से जूझ रहा है. यहाँ तक कि आज छोटी सी उम्र में ही व्यक्ति की आँखों पर कमजोरी का चश्मा लग जाता है. वो कहते है न कि अगर हम कुदरत द्वारा दी गई चीजों का सम्मान नहीं करेंगे, तो इससे हमारा ही नुक्सान होगा. बस ऐसा ही कुछ हम अपनी आँखों के साथ भी कर रहे है. जी हां आज के समय में लोग अपनी आँखों का गलत और जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल कर रहे है. यही वजह है कि आज कई लाख लोग आँखों की बीमारी से जूझ रहे है.

गौरतलब है कि अगर आप अपनी आँखों को सुरक्षित रखना चाहते है तो आपको इन छोटी छोटी बातों का ध्यान जरूर रखना होगा, जो अभी हम आपको बताने वाले है. वो इसलिए क्यूकि अगर आपने इन छोटी छोटी बातों का ध्यान नहीं रखा, तो आपकी आंखे भी खराब हो सकती है. बरहलाल आज हम आपको आपकी एक ऐसी गलती के बारे में बताने जा रहे है, जो आप रोज करते है और इस एक गलती की वजह से आपकी आँखों को भारी नुक्सान हो सकता है. गौरतलब है कि आज कल भारत में मोबाइल की संख्या दिन पर दिन बढ़ती जा रही है और उतनी ही तेजी से लोग मोबाइल का इस्तेमाल भी कर रहे है.

मगर हम आपकी जानकारी के लिए बता दे कि मोबाइल का ज्यादा इस्तेमाल करने से न केवल शारीरिक रूप से बल्कि मानसिक रूप से भी इसका बुरा असर आप पर पड़ता है. जी हां मोबाइल के ज्यादा इस्तेमाल से आपको मानसिक और शारीरिक रूप से कई समस्याओ का सामना करना पड़ सकता है. वैसे भी आज कल हर कोई दिन रात मोबाइल पर चैटिंग करने में और गेम्स खेलने में व्यस्त रहता है. ऐसे में इसका सबसे ज्यादा असर आपकी आँखों पर पड़ता है.

यानि अगर हम सीधे शब्दों में कहे तो अब लोग बाहर खेल खेलने की बजाय पूरा दिन मोबाइल पर ही लगे रहते है. जिससे न केवल उनका शरीर कमजोर होता है, बल्कि उनकी आंखे भी कमजोर होती है. इसके इलावा बहुत से लोग अँधेरे में भी मोबाइल का इस्तेमाल करते है और इसका सबसे ज्यादा गलत प्रभाव आपकी आँखों पर ही पड़ता है. बता दे कि इससे आँखों को सबसे ज्यादा नुक्सान पहुँचता है. यहाँ तक कि अगर आप हर रोज ऐसा करते है तो आपकी आँखों में कई तरह की समस्याएं भी उत्पन्न हो सकती है.

इसलिए अगर आप अपनी आँखों को स्वस्थ रखना चाहते है, तो मोबाइल का इस्तेमाल कम करे और अपनी आँखों का ध्यान रखे.

by Rajni Goyal

Source: Namanbharat.net


Sponsor Ads


About Neeraj Bisaria Senior   SEO Exec.

342 connections, 0 recommendations, 945 honor points.
Joined APSense since, May 15th, 2013, From Noida, India.

Created on May 18th 2018 01:10. Viewed 477 times.

Comments

No comment, be the first to comment.
Please sign in before you comment.